तू कभी आ देख कभी साथ तों चल…

तू कभी आ देख कभी साथ तों चल
मेरे तसव्वुर की दुनियाँ बहुत हसीन है,

यहाँ हवा जो चलती है गुनगुनाती है
यहाँ जो फूल खिलते है मुस्कुराते है,

यहाँ जितने परिंदे चहेक रहें है
मोहब्बत का नग़मा गुनगुना रहें है,

यहाँ का मौसम बहुत हसीन है
कभी रिमझिम कभी मस्त ठंडी हवाएं..!!

Leave a Reply

%d bloggers like this: