तरसती आँखे, उदास चेहरा, नजिफ लहज़े, बगैर तेरे…

तरसती आँखे, उदास चेहरा, नजिफ लहज़े, बगैर तेरे
बिखरी ज़ुल्फे, लिबास उजड़ा, वज़ूद ख़स्ता, बगैर तेरे,

अमीक़ जंगल, घप अँधेरा, डूबती साँसे, ज़ईफ़ धड़कन
बरहना पाँव, बे नाम मंज़िल, निशाँ न रास्ता, बगैर तेरे,

ख़ामोश बुलबुल, सर्दियत झड, बेरंग मौसम, वीरान गुलशन
न फूल ख़ुशबू, हवा न बादल न कोई नगमा, बगैर तेरे,

उम्मीद मद्धम, मिज़ाज बरहम, मायूस जीवन, बेआस हरदम
न कोई ख्वाहिश न कोई हसरत, न है तमन्ना, बगैर तेरे,

काली सुबहे, सुर्ख रातें, वक़्त साकीन, उदास शामे
हज़ार सदियों के है बराबर हर एक लम्हे, बगैर तेरे,

तावीज़ उलटे, अधूरी मन्नत, वजीफे, जादू नाकाम सारे
न इस्तखारा ही काम आया, न कोई धागा, बगैर तेरे,

अज़ीब क़िस्मत, नसीब उलझा, गलत लकीरें मेरा मुक़द्दर
हाँ गर्दिश में ये आ गया है मेरा सितारा, बगैर तेरे..!!

Leave a Reply

%d bloggers like this: