जाते जाते वो हमको रुला कर चला गया…

जाते जाते वो हमको रुला कर चला गया
गम की आँधी से सामना कर कर चला गया,

वो हमेशा के लिए छोड़ कर हमको
दिल के अरमान मिट्टी में मिला कर चला गया,

वो जिसकी रौशनी से मुनव्वर था दिल अपना
आज वही चिराग़ ए उल्फ़त बुझा के चला गया,

वो जिसके प्यार में पागल थे हम सुबह ओ शाम
आज वही हमें मजनूं दीवाना बना कर चला गया,

वो जिसकी वफ़ा पर हमें नाज़ था बहुत
आज वही सबक़ ए बेवफ़ाई पढ़ा कर चला गया,

वू जिसकी दोस्ती दुनियाँ में ज़िन्दा मिसाल थी
आज वही पीठ में खंज़र लगा कर चला गया..!!

Leave a Reply

error: Content is protected !!