माना कि अब तुम्हारा दिल भर गया होगा…

माना कि अब तुम्हारा दिल भर गया होगा
हमसे ना सही, प्यार कही और हो गया होगा,

ये जो तुम आहिस्ता आहिस्ता से दूर जा रहे हो
यक़ीनन कोई और तुम्हे मिल गया होगा,

तुमने जो सिखाए है हमें आदाब ए मुहब्बत
तो फिर उनको उन्ही पर लागू कर दिया होगा,

हमारे साथ जो तुमने कुछ देर सफ़र किया है
अब उसमे मजीद इज़ाफा कर लिया होगा,

न जाने तुम रातों को सुकून से सोते हो
मुझे तो लगता है इरादा कर लिया होगा,

आज तक हम तुम्हारी जान थे, है न ?
अब ये वायदा किसी और से कर लिया होगा,

मैं तो हर वक़्त रहता हूँ तेरे ही सोच में
तूने किसी और को ख्यालो में बसा लिया होगा..!!

Leave a Reply

error: Content is protected !!